Monthly Archives: September 2016

मीत लिख रहा है

जहन में  भीतर  जाने कौन गीत लिख रहा है हजारो – लाखो में आपसी  प्रीत  लिख रहा है और तुम बेशक समझ लो दुश्मन उसे अपना वो तो कब  से … Read more »

गाने का हुनर

गाने का हुनर सीख लेते हैं आजकलजिन्हें सलीखा बोलने का नहीं आता #गुनी…

निशां…

निशां मेरे दिल पर करीब वालो का हैदूर वालो की तो हद से बाहर था दिल #गुनी…